Thursday, May 9, 2013

दो साल बीत गये, मुझे ब्लाग पर कुछ लिखे हुए, वयस्ता के कारण । दफ्तर, कालेज और घर की ज़िम्मेदारियों में खुद के लिये उतना वक्त ही नहीं मिला । उम्मीद है, ब्लाग जगत से नाता टूटा ना होगा । इश्वर की मेहेरबानी, बुजुर्गो के आशिर्वाद और आप सबकी दुआओं से मेरा एम.बी.ए. भी पूरा हो गया अभी । _________फिलहाल एक यही ख्याल आ रह है ज़हन में : ______________ कुछ वादे ज़िन्दगी से किये थे कभी । कुछ पूरे कर दिये, कुछ बाकी है अभी ॥

5 comments:

  1. स्‍वागत है आपका ..
    बधाई और शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  2. kaise ho?
    jab tak zindagee hai bhag doud chaltee hee rahegee jimmedariya imandaree aur lagan se nibhanee hai par aabhasee duniya bhee apanee hee lagtee hai apanapan yanha bhee kabhee kabhee mil jata hai .
    vaise mai bhee abhee tatasth hee see hoo .likhna zaree hai par blog par nahee....
    shubhkamnae
    wish you all the best in life bete.....

    ReplyDelete
  3. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  4. एम.बी.ए. पूर्ण होने पर बधाई.. अब तो और भी व्यस्त जिंदगी होगी ..लेकिन कभी कभार ब्लॉग जरुर लिखते रहना ..अपने मन की बातें जिंतने अच्छे हम ब्लॉग पर कह लेते हैं उतना और जगह नहीं ...शायद आपका भी विचार कुछ ऐसा हो ..
    ..हार्दिक शुभकामनायें

    ReplyDelete